Narazgi Shayari

क्या आप Narazgi Shayari ढूंड रहे है? तो सही जगह पर आये है पढ़िए Narazgi Shayari in Hindi और शेयर करें Facebook, Whatsapp और Instaram पर


Narazgi Shayari


Narazgi Shayari
Narazgi Shayari

नाराजगी अजीब होती है मोहब्बत की राहों में भी,
रास्ता कोई बदलता है मंजिल किसी और की खो जाती है..!!

हमारे बीच दूरियां बढ़ी है इसका मतलब ये थोड़ी,
कि मैं उससे इश्क़ करना छोड़ दूँ..!!

जैसे मैं तुम्हारी हर नाराजगी समझता हूं,
काश वैसे ही तुम मेरी सिर्फ एक मजबूरी समझते..!!

देखो नाराज़गी मुझसे ऐसे भी जताती है वो,
छुपाती भी कुछ नही जताती भी कुछ नही..!!

किसी को मनाने से पहले ये जान लेना,
कि वो तुमसे नाराज है या परेशान..!!

नखरे तेरे, नाराजगी तेरी देख लेना,
एक दिन जान ले लेगी मेरी..!!

नाराज़गी हो तो जता लेना लेकिन नफ़रत न करना,
चाहत किसी और हो जाएं तो बता देना बस बेवफाई न करना..!!

लोग अक्सर एक ही भूल कर जाते है,
नाराजगी जिससे हो उसे छोड़ जमाने को बताते है..!!

ना आँखों में चमक ना होंठों पर कोई हलचल है,
तेरी नाराजगी का ऐसा असर है कि अब तो गम पल-पल है..!!

मुझको छोड़ने की वजह तो बता देते,
मुझसे नाराज़ थे या मुझ जैसे हज़ारों थे..!!

Narazgi Shayari in Hindi
Narazgi Shayari in Hindi

नाराजगी वहाँ मत रखिएगा मेरे दोस्त,
जहाँ आपको ही बताना पड़े आप नाराज है..!!

अपनी ही मोहब्बत का आगाज़ कर रहे हो,
मोहब्बत शुरू हुई नहीं और पहले ही हमे नाराज़ कर रहे हो..!!

ना जाने किस बात पे आप नाराज है हमसे,
ख्वाबों मे भी मिलते है तो बात नही करते..!!

नसीबों का मारा मैं तेरी मोहब्बत से हारा मैं,
तू दिल में बस गयी है ऐसे तुझसे नाराज़गी में भी रोया मैं..!!

सितम हमारे सारे छांट लिया करो,
नाराज़ होने से अच्छा हमे डांट लिया करो..!!

चुप हूँ इसका मतलब ये नहीं की नाराज हूँ मैं,
कुछ बात ज़रूर होगी बेवजह नहीं नाराज़ हूँ मैं..!!

किस बात पे खफा हो नाराज लग रहे हो,
लगते हो जैसे हरदम ना आज लग रहे हो..!!

कभी-कभी की नाराजगी प्यार बढ़ा देती है,
लेकिन हर दिन की नाराजगी मान घटा देती है..!!

दो बातें प्यार की तू भी बोले हमे मनाते हुए,
इस चक्कर में कब से नाराज़ बैठे है..!!

बेशक मुझपे गुस्सा करने का हक है तुम्हे,
पर नाराजगी में हमारा प्यार मत भूल जाना..!!

Narazgi Ki Shayari
Narazgi Ki Shayari

तुझसे नहीं तेरे वक्त से नाराज़ हु,
जो तुझे कभी मेरे लिए मिला ही नहीं..!!

अब पूछते भी नहीं की बात क्यों नहीं करते,
इतनी नाराज़गी भी ठीक नहीं सनम..!!

हमें कहाँ है सलीका नाराज़ होने का,
वो मुस्कुरा भी जाते तो हम मान जाते..!!

नाराज़गी भी है लेकिन किसको दिखाऊं,
प्यार भी है लेकिन किस से जताऊँ,
वो रिश्ता ही क्या जिसमे भरोसा ही नहीं,
अब उन पर हक़ ही नहीं कैसे बताऊं..!!

नाराज़गी में ही सही,
लेकिन वो हम से दूर हो गए..!!

आप नाराज़ हों रूठ के ख़फ़ा हो जाए,
बात इतनी भी ना बिगड़े कि जुदा हो जाए..!!

नाराज़गी है न जाने फिर भी ये दिल क्या चाहता है,
ख्याल तुम्हारा अक्सर रूठने के बाद भी आता है..!!

नाराज मत हुआ करों कुछ अच्छा नहीं लगता है,
तेरे हसीन चेहरे पर यह गुस्सा नहीं सजता है,
हो जाती है कभी-कभी गलती माफ़ कर दिया करो,
चाहने वालों से बेदर्दी यह नुस्खा नहीं जचता है..!!

तेरी बात को खामोशी से मान लेना,
ये भी अंदाज़ है मेरी नाराज़गी का..!!

सच्चे प्यार की यहीं निशानी है,
नाराज़गी से दूर उनकीं अलग एक कहानी है..!!

Narazgi Par Shayari
Narazgi Par Shayari

क्यों नाराज़ होते हो मेरी इन नादान हरकतों से,
कुछ दिन की ज़िन्दगी है फिर चले जाएंगे तुम्हारे इस जहाँ से..!!

वो शख्स कुछ नाराज़ सा था मुझ से,
शायद नाराजगी के साथ अकेले घर जा रहा था,
चेहरा भी कुछ खामोश सा था उसका,
लेकिन शोर उसकी आंखो में नजर आ रहा था..!!

मेरी नाराज़गी को मेरी बेवफ़ाई मत समझना,
नाराज़ भी उसी से होते है जिससे बेइंतिहा मोहब्बत हो..!!

उसकी हर गलती भूल जाता हूँ,
जब वो मासूमियत से पूछती है नाराज है क्या..!!

तुम हँसते हो मुझे हंसाने के लिए, तुम रोते हो मुझे रुलाने के लिए,
तुम एक बार रूठ कर तो देखो, मर जाएंगे तुम्हे मनाने के लिए..!!

तेरी नाराज़गी मेरी दीवानगी,
चल देखें किसकी उम्र ज्यादा है..!!

याद रखना भी बहुत हिम्मत का काम है,
क्यूंकि किसी को भुला देना आजकल बहुत आम बात है..!!

जब से तुमने रुठे को मनाना छोड़ा दिया,
तब से हमने खुदा से भी नाराज होना छोड़ दिया..!!

कोई खास फर्क नहीं पड़ता अब ख़्वाहिशें अधूरी रहने पर,
बहुत करीब से कुछ सपनों को टूटते हुये देखा है मैंने..!!

कितना करीब थी तू मेरे जैसे सांसो में समायी हो,
एक दम से कैसे कह दिया कि तुम मुझे भूल जाओ,
उस पल ऐसे लगा जैसे मेरी मौत आयी हो..!!

Narazgi Wali Shayari
Narazgi Wali Shayari

खामोशियां ही बेहतर हैं,
शब्दों से लोग नाराज़ बहुत हुआ करते हैं..!!

तुम मेरी कल थी और मैं आज हो गया हूं,
अब मैं मनाने नहीं आऊंगा क्योंकि मैं नाराज हो गया हूं..!!

किस बात पे खफा हो नाराज लग रहे हो,
लगते हो जैसे हरदम ना आज लग रहे हो..!!

बेशक किसी की गलती पर उससे नाराज रहो,
मगर इतना भी नाराज़ मत हो जाओ,
कि वो इंसान को खुद से ही नफरत हो जाए..!!

मुस्कुराने से भी होता है ग़में-दिल बयां,
मुझे रोने की आदत हो ये ज़रूरी तो नहीं..!!

तू क्यों दूर है इतना मुझसे तुझे चाहता हूँ मैं,
पूरे दिल से सुन ले मेरी आरज़ू,
तू ही मेरी जान है तू ही सारा जहाँ है..!!

सुन जाना एक तेरे चक्कर में,
अब तो खुदा भी हमसे नाराज हो गया..!!

हम तब तक ही खास है,
जब तक की वो मेरे साथ है..!!

मेरी फितरत में नहीं है किसी से नाराज होना,
नाराज वो होते हैं जिनको अपने आप पर गुरुर होता है..!!

जिंदगी में अपनापन तो हर कोई दिखाता है,
पर अपना हैं कौन यह वक़्त ही बताता हैं..!!

Shayari on Narazgi in Hindi
Shayari on Narazgi in Hindi

चेहरे अजनबी हो जाये तो कोई बात नही लेकिन,
रवैये अजनबी हो जाये तो बडी तकलीफ देते हैं..!!

मत पूछो कैसे गुजरता है हर पल तुम्हारे बिना,
कभी बात करने की हसरत कभी देखने की तमन्ना..!!

गलती तो सबसे होती है हाँ मुझसे भी हो गयी,
अब माफ़ भी कर दे मुझे क्यों दूर इतना हो गई,
एक गलती के लिए क्यों ऐसे साथ छोड़ गयी..!!

कुछ नाराज़गी सिर्फ गले लगने से ही दूर होती हैं,
समझने समझाने से नहीं..!!

झगड़ा तब होता है जब शिकायत होती है,
और शिकायतें उनसे होती है जिनसे प्यार होता है..!!

तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी ना रहेगी,
तुम्हारे बिना चिरागो में रौशनी न रहेगी,
क्या कहे क्या गुज़रेगी इस दिल पर,
ज़िंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी ना रहेगी..!!

बेशक मुझपे गुस्सा करने का हक है तुम्हे,
पर नाराजगी में हमारा प्यार मत भूल जाना..!!

भूल जाऊ हो नहीं सकता,
मैंने नहीं मेरे दिल ने चुना है तुमको..!!

हम बेबस हैं बे-परवाह नहीं हम उदास हैं खफ़ा नहीं,
कदर करते हैं दोस्तों की दिल से,
हम जिंदगी में मजबूर तो हो सकते हैं लेकिन बेवफ़ा नहीं..!!

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से..!!

अगर तेरी नाराज़गी तेरी मजबूरी है,
तो रहने दे मुझे मानना नहीं जरुरी है..!!


Final Words


आपको ये ब्लॉग Narazgi Shayari in Hindi कैसा लगा कमेंट करके जरुर बताएं! इसके आलावा भी अगर ब्लॉग या वेबसाइट से संबधित कोई Suggestion या Advice है। तो दे सकते है हम उसमे सुधार करने की कोशिश करेंगे!

अगर आपको Narazgi Shayari पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें! और हमे FacebookInstagram और Pinterest पर भी फॉलो कर सकते है..!! धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top