Judai Shayari

आप Judai Shayari ढूंड रहे है ना? तो सही जगह पर है पढ़िए Judai Shayari in Hindi और शेयर करें अपनी फीलिंग्स को Facebook, Whatsapp और Instagram पर

मुझे पता है आप अभी अभी ही अपने पार्टनर से दूर हुए है और आपको बुरा महसूस हो रहा होगा इसलिए आप यहाँ तक Judai Ki Shayari पढने के लिए आये ताकि ये Sad Judai Shayari पढ़कर और शेयर करके अपने मन को हल्का कर पायें.

इसीलिए आपके लिए स्पेशल लेके आये है ये Shayari Judai और नीचे कमेंट करके जरुर बताएं आपको ये Judai Shayari Hindi कैसी लगी ताकि हम आगे भी ऐसी ही शायरी लेकर आते रहे.


Judai Shayari


Judai Shayari

कोई रूठे अगर तुमसे तो उसे फ़ौरन मना लेना,
इस हाल में अक्सर जुदाई जीत जाती है..!!

तेरी जुदाई का शिकवा करूँ भी तो किस से करूँ,
यहाँ तो हर कोई अब भी, मुझे तेरा समझता हैं..!!

जुदा हुए हैं बहुत से लोग एक तुम भी सही,
अब इतनी सी बात पे क्या जिंदगी हैरान करें..!!

उसकी जुदाई में आज यादें तड़पाती हैं,
याद में उसकी अब तो रातें गुजर जाती हैं,
कभी नींद नहीं आती है आँखों में,
तो कभी नींद से आँखें ही मुकर जाती हैं..!!

जुदा होकर भी जुदाई नहीं होती,
इश्क उम्र कैद है प्यारे इसमें रिहाई नहीं होती..!!

मेरी जुदाई में वो मिलकर नहीं गया,
उसके बगैर मैं भी कोई मर नहीं गया..!!

सब के होते हुए भी तन्हाई मिलती है,
यादों में भी गम की परछाई मिलती है,
जितनी भी दुआ करते हैं किसी को पाने की,
उतनी ही ज्यादा जुदाई मिलती है..!!

कह के आ गए उनसे कि जी लेंगे तुम्हारी बिन,
उनके जुदा होते ही जान पे बन आई है..!!

किसी से जुदा होना इतना आसान होता तो,
जिस्म से रूह को लेने फ़रिश्ते नहीं आते..!!

हर मुलाक़ात पर वक़्त का तकाज़ा हुआ,
हर याद पर दिल का दर्द ताज़ा हुआ,
सुनी थी सिर्फ लोगों से जुदाई की बातें,
खुद पर बीती तो हक़ीक़त का अंदाज़ा हुआ..!!

Judai Shayari in Hindi

गया था भूल मैं सिर्फ प्यार काफी नहीं,
कुछ बनना भी होता हैं लाइफ में मोहब्बत पाने के लिए..!!

हसंते हसंते रो दिया करता हु कभी कभी,
जब जब तुम्हारी हंसी मुझे याद आ जाती हैं..!!

अच्छा हुआ वक़्त से पहले ही सब कुछ जान गया मैं,
न जाने बाद में फिर वक़्त मिलता या नहीं..!!

तमन्ना इश्क तो हम भी रखते हैं,
हम ही किसी के दिल में धड़कते हैं,
मिलना चाहते तो बहुत हैं हम आपसे,
पर मिलने के बाद जुदाई से डरते हैं..!!

इन दूरियों को जुदाई मत कहना,
इन खामोशियों को रुसवाई मत कहना ,
हर मोड़ पर याद करेंगे आपको,
ज़िन्दगी में साथ नहीं दिया तो बेवफाई मत कहना..!!

हमने प्यार नहीं इश्क नहीं इबादत की है,
रस्मों से रिवाजों से बगावत की है,
माँगा था हमने जिसे अपनी दुआओं में,
उसी ने मुझसे जुदा होने की चाहत की है..!!

जुदाई इश्क़ का दस्तूर क्यूँ है हम नहीं समझे,
मोहब्बत इस क़दर मजबूर क्यूँ है हम नहीं समझे..!!

आज फिर वही सवाल पूछा हैं दिल ने,
क्या कमी रह गयी थी तुम्हारा होने में..!!

तकलीफ खुद ही कम हो गयी,
जब आपको पाने की उम्मीद कम हो गयी..!!

इतना बेताब न हो मुझसे बिछड़ने के लिए,
तुझे आँखों से नहीं मेरे दिल से जुदा होना है..!!

Judai Ki Shayari

मेरी आखो से बहने वाला ये आँशु,
पूछ रहा है हमे यु छोड़ जाने की वजह..!!

आपकी मुस्कुराहट के लिए तरसे, आपकी बात के लिए तरसे,
आपके पास होकर भी आपसे मुलाकात के लिए तरसे..!!

नींद तो बचपन में आती थी,
अब तो हर रोज नींद से पहले आखो में आसू आते हैं..!!

दिल बिखरने से डर लगता हैं,
कुछ अपनी किस्मत से डर लगता हैं,
जो मुझे तुझसे दूर करती हैं,
मुझे हाथो की उस रेखा से डर लगता हैं..!!

उसे हम छोड़ दे लेकिन बस एक छोटी सी उलझन है,
सुना है दिल से धड़कन की जुदाई सिर्फ मौत होती है..!!

मैं याद न आऊ ऐसा हो नहीं सकता,
तुम्हारे अलावा किसी और कोई चाहू ये दिल दगा कर नहीं सकता..!!

आओ किसी रोज मुझे टूट के बिखरता देखो,
मेरी रगों में ज़हर जुदाई का उतरता देखो,
किस किस अदा से तुझे मागा है खुदा से,
आओ कभी मुझे सजदो में सिसकता देखो..!!

अगर जाना ही था,
तो मेरे इतना करीब न आए होते..!!

वफ़ा की ज़ंज़ीर से डर लगता है,
कुछ अपनी तक़दीर से डर लगता है,
जो मुझे तुझसे जुदा करती है,
हाथ की उस लकीर से डर लगता है..!!

अकेला महसूस करो जब तन्हाई में,
याद मेरी आये जब जुदाई में,
मैं तुम्हारे पास हूँ हर पल,
जब चाहे देख लेना अपनी परछाई में..!!

Sad Judai Shayari

न जाने कैसे मैंने अपने दिल को मनाया हैं,
ये समझता ही नहीं तू किसी और की हो गयी..!!

उनसे जुदा होकर भी, गुफ़्तगू उनसे रोज होती है,
सवाल भी हमारे होते हैं और जवाब भी..!!

सर्द रातों में सताती है जुदाई तेरी,
आग बुझती नहीं सीने में लगाई तेरी,
तू तो कहता था बिछड़ के सुकून पा लेंगे,
फिर क्यों रोती है मेरे दर पे तन्हाई तेरी..!!

बेवफा वक़्त था वो थे या मुक़द्दर मेरा,
बात जो भी थी बहरहाल अंजाम जुदाई निकला..!!

आपकी बेवफाई का सिला कुछ इस तरह देंगे हम,
आपसे ही बेपनाह मोहब्बत और आपको ही बेवफा कहेंगे हम..!!

आपकी आहट दिल को बेकरार करती है,
नज़र तलाश आपको बार-बार करती है,
गिला नहीं जो हम हैं इतने दूर आपसे,
हमारी तो जुदाई भी आपसे प्यार करती है..!!

कोई बताये कहा मिलेगा वो नसीब,
ताकि अपनी मोहब्बत को पा सकू..!!

न जाने कैसे भुला देते हैं लोग किसी को,
हमे तो हर पल सिर्फ तुम ही याद आती हो..!!

दिल से निकली ही नहीं शाम जुदाई वाली,
तुम तो कहते थे बुरा वक़्त गुज़र जाता है..!!

अगर मुझसे मोहब्बत नहीं तो रोते क्यों हो,
तन्हाई में मेरे बारे में सोचते क्यों हो,
अगर मंज़िल जुदाई है तो जाने दो मुझे,
लौट के कब आओगे पूछते क्यों हो..!!

Shayari Judai

बेवफा वक़्त था? तुम थे? या मुकद्दर था मेरा?
बात इतनी ही है कि अंजाम जुदाई निकला..!!

जुदा हुए हैं बहुत से लोग एक तुम भी सही,
अब इतनी सी बात पे क्या जिंदगी हैरान करें..!!

हमने कब आपसे ज़िन्दगी भर का वादा चाहा,
दूर रहकर भी आपको आपसे जादा चाहा..!!

एक उसकी तलाश में,
हम खुद को गवा बैठे..!!

काश तुम मेरा हमसफ़र होते,
या मुझे कभी मिले ही नहीं होते..!!

मुस्कुराने कि आदत भी कितनी महेंगी पड़ी हमे,
छोड़ गया वो ये सोच कर कि हम जुदाई में खुश हैं..!!

याद में तेरी कैसे दिन गुजरते हैं,
पूछो न हमसे आलम वो जुदाई का,
कांटो की तरह चुभता रहा वो लम्हा,
रो-रोकर गुजरता है रास्ता हर तन्हाई का..!!

जुदाई सहने का अंदाज कोई मुझसे सीखे,
रोते है मगर आँखों में आँसूं नहीं होते..!!

ना जाने मेरी मौत कैसी होगी,
पर ये तो तय है तेरी जुदाई से बेहतर होंगी..!!

तू क्या जाने क्या है तन्हाई,
इस टूटे हुए दिल से पूछ क्या है जुदाई,
बेवफाई का इल्ज़ाम न दे ज़ालिम,
इस वक़्त से पूछ किस वक़्त तेरी याद नहीं आती..!!

Judai Shayari Hindi

जुदा हो कर भी जी रहें हैं एक मुद्दत से,
कभी दोनों कहते थे जुदाई मार डालेगी..!!

याद में तेरी आहें भरता है कोई,
हर सांस के साथ तुझे याद करता है कोई,
मौत तो सच्चाई है आनी ही है एक दिन,
लेकिन तेरी जुदाई में हर रोज मरता है कोई..!!

जिसकी आँखों में काटी थी सदियाँ,
उसने सदियों की जुदाई दी है..!!

याद में तेरी कैसे दिन गुजरते हैं,
पूछो न हमसे आलम वो जुदाई का,
कांटो की तरह चुभता रहा वो लम्हा,
रो-रोकर गुजरता है रास्ता हर तन्हाई का..!!

बहुत कुछ बदल गया मेरी ज़िंदगी में,
एक तेरे आने के बाद, फिर जाने के बाद..!!

जब वादा किया है तो निभाएंगे,
सूरज किरण बन कर छत पर आएंगे,
हम हैं तो जुदाई का ग़म कैसा,
तेरी हर सुबह को फूलों से सजाएंगे..!!

कट ही गई जुदाई भी कब ये हुआ कि मर गए,
तेरे भी दिन गुजर गए मेरे भी दिन गुजर गए..!!

दिल जुड़ा हो तो मुलाक़ात से फिर क्या हासिल,
यूं तो सेहरा भी समंदर से मिला करते हैं..!!

दिल को मेरे ये एहसास भी नहीं है,
कि अब मेरा मेरा यार मेरे पास नहीं है,
उसकी जुदाई ने वो ज़ख्म दिया हमें,
जिंदा भी न रहे और लाश भी नहीं है..!!

हर रोज की तरह वो आज भी ऑनलाइन आई,
पर मेरे लिए नहीं किसी और के लिए..!!

बुरा वक़्त था किस्मत थी और आप थे,
पर परिणाम तो यही हैं जुदाई..!!

जुदाई शायरी

जाते जाते आज फिर वो एक वादा कर गए,
लौट कर आएंगे जरुर पर किसी और के संग..!!

बात प्यार की हैं वरना हमे भी पता हैं,
मोहब्बत जबरदस्ती हासिल की नहीं जाती..!!

फिर से दूर होना नहीं हैं तुझसे,
इसलिए पाने की कोशिश ही नहीं की..!!

आप को पा कर अब खोना नहीं चाहते,
इतना खुश हैं कि अब रोना नहीं चाहते,
ये आलम है हमारा आप की जुदाई में,
आँखों में नींद है और सोना नहीं चाहते..!!

मुलाकात नहीं होती उनसे,
पर फिर भी यादो में कभी कभी मिल लेता हु..!!

उसे खोने के डर से कभी पाया ही नहीं,
हर पल उसकी याद में तड़पता रहा पर उसे कभी बताया ही नहीं..!!

वो जिस्म और जान जुदा हो गए आज,
वो मेहेंदी के रंग में खो गए आज,
हमने चाहा जिन्हें सिद्दत से,
वो उम्र भर को किसी और के हो गए आज..!!

तेरे होते हुए भी तन्हाई मिली है,
वफ़ा करके भी देखो बेवफाई मिली है,
जितनी दुआ की तुम्हें पाने की मैंने,
उससे ज्यादा तेरी जुदाई मिली है..!!

सिर्फ एक ही बात समझी हमने इश्क करके,
इश्क तो करो पर कभी दिल का सौदा मत होने दो..!!

जुदा होकर भी जुदाई नहीं होती इश्क,
उम्र कैद है प्यारे इसमें रिहाई नहीं होती,
वह दिन जो तेरे साथ गुज़ारे थे,
नज़रें तलाश उनको बार-बार करती हैं..!!

तुम्हारे ढंग से लगता हैं,
अब तुम किसी और के हो चुके हो..!!


Final Words


आपको ये ब्लॉग Judai Shayari in Hindi कैसा लगा कमेंट करके जरुर बताएं! इसके आलावा भी अगर ब्लॉग या वेबसाइट से संबधित कोई Suggestion या Advice है। तो दे सकते है हम उसमे सुधार करने की कोशिश करेंगे!

अगर आपको Judai Shayari पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें! और हमे FacebookInstagram और Pinterest पर भी फॉलो कर सकते है..!! धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top