[50+] Gam Bhari Shayari in Hindi (NOV 2021) | गम भरी शायरी | Gam Shayari

क्या आप Gam Bhari Shayari ढूंड रहे है? तो पढ़िए Best Gam Shayari in Hindi with Photo Images और शेयर करें Facebook, Whatsapp और Instagram पर


Gam Bhari Shayari


Gam Bhari Shayari
Gam Bhari Shayari

लोग कहते है हम मुस्कुराते बहुत है,
और हम थक गए दर्द छुपाते छुपाते..!!

मुस्कुराते पलको पे सनम चले आते हैं,
आप क्या जानो कहाँ से हमारे गम आते हैं,
आज भी उस मोड़ पर खड़े हैं जहाँ,
किसी ने कहा था कि ठहरो हम अभी आते है..!!

मेरे कमरे में अँधेरा नहीं रहने देता,
आपका ग़म मुझे तन्हा नहीं रहने देता..!!

जब टुटा दिल मेरा तो मुझे ही पता था,
की शरीर में जान मेरे कितना था,
हम तो हँसते हुए कुर्बान होते चले गए,
तुमने तो जाना ही नहीं कि दिल में दर्द कितना था..!!

इस तरह प्यार में तकरार मत करो,
दिल ले लो मेरा पर दिल पर वार मत करो..!!

तुम्हारा सुरूर जब दिल पर छाये तो धड़कन क्या करें,
आंसू आँखों में आये तो पलकें क्या करें,
जब कोई अपना कहकर पराया बना जाये,
तो उस दर्द-ऐ-दिल की मज़बूर मोहब्बत क्या करें..!!

ज़िन्दगी हैं नादान इसलिए चुप हूँ,
दर्द ही दर्द सुबह शाम इसलिए चुप हूँ,
कह दू ज़माने से दास्तान अपनी,
उसमे आएगा तेरा नाम इसलिए चुप हूँ..!!

मोहब्बत के भी कुछ अंदाज़ होते हैं,
जगती आँखों के भी कुछ ख्वाब होते हैं,
जरुरी नहीं के ग़म में आँसू ही निकले,
मुस्कुराती आँखों में भी शैलाब होते हैं..!!

रास्ते खुद ही तबाही के निकाले हमने,
कर दिया दिल किसी पत्थर के हवाले हमने,
हमें मालूम है क्या चीज़ है मोहब्बत यारो,
घर अपना जला कर किये हैं उजाले हमने..!!

दिल में छुपा लो गम पर वो दिख ही जाता है,
सच्चा प्यार चाहे कितना दूर हो वो मिल ही जाता है..!!


Gam Bhari Shayari Hindi


Gam Bhari Shayari in Hindi
Latest Gam Bhari Shayari Hindi

मंज़िलों के ग़म में रोने से मंज़िलें नहीं मिलती,
हौंसले भी टूट जाते हैं अक्सर उदास रहने से..!!

इंकार की तेरी आखिर क्या वजह हो सकती है,
दिल लेकर दिल न देने की क्या वजह हो सकती है,
अब सहन नहीं होता हमसे तुम्हारी ये बेरुखी,
यूँ नज़र फेरने की आखिर क्या खला हो सकती है..!!

रहना तो चाहते थे साथ उनके,
पर इस ज़माने ने रहने ना दिया,
कभी वक़्त की खामोशी मे खामोश रहे,
तो कभी खामोशी ने कुछ कहने ना दिया..!!

हम जानते है आप जीते हो जमाने के लिए,
एक बार तो जी के देखो सिर्फ हमारे लिए,
इस नाचीज़ की दिल क्या चीज़ है,
हम तो जान भी दे देंगे आप को पाने के लिए..!!

किस किस से कहूँ कि यहाँ क्या क्या बवाल हैं,
इस जिंदगी में उलझे से कितने सवाल हैं,
सबकी तरह उसने भी बस पूँछा हमारा हाल,
हमने भी कह दिया कि मस्त हाल-चाल हैं..!!

वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही,
मोहब्बत में प्रेमी कभी झुकता नही,
किसी की खुशियों के खातिर चुप है,
पर तू ये न समझना की मुझे दुःखता नही..!!

हजार गम मेरी फितरत नही बदल सकते,
क्या करू मुझे आदत है मुस्कुराने की..!!

इस दुनिया में अजनबी रहना ठीक है,
लोग बहुत तकलीफ देते है अक्सर अपना बना कर..!!

सिर्फ दिल में नहीं बसाया जान बनाया था तुम्हे,
सबको ठुकराया मैंने तब जाकर अपनया था तुम्हे..!!

टूटे पत्तों की तरह है ये ज़िन्दगी,
जिसके रहने न रहने से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता,
वो तन्हा इंसान हो गया हूँ मैं अब,
जिसके आंसुओं का भी कोई मोल पता नहीं चलता..!!


Gam Bhari Shayari Photo Image


Gam Shayari Hindi
Gam Bhari Shayari Photo Image

गम छुपाने का अपना ही अलग मजा है,
क्योंकि गम दिखाकर मुझे दर्द बांटना नहीं है..!!

ना ख़ुशी की तलाश है ना गम-ए-निजात की आरज़ू,
मैं खुद से नाराज़ हूं तेरी बेरुखी के बाद..!!

जानता हूँ एक ऐसे शख्स को मैं भी मुनीर,
ग़म से पत्थर हो गया लेकिन कभी रोया नहीं..!!

तन्हाई में छोड़ो महफ़िल में भी दर्द है मुझे,
इतने दर्द में भी आज भी तुम्हारी क़द्र है मुझे..!!

आँसुओं के स्याही से दर्द-ऐ-दिल का हाल बयां करता हूँ,
आज मोहब्बत का असलियत सर-ऐ-आम लिखता हूँ,
सब खोकर इस मोहब्बत में दर्द और याद पाया है मैंने,
लो आज याद में उसके जी भर के आँसुओं का बहाता हूँ..!!

मोहब्बत कभी भी मज़बूर नहीं होती है,
बल्कि जो मज़बूर हो वो मोहब्बत नहीं होती है..!!

सहमा सा हूँ पर किसी से शिकवा कैसा,
जब मेरी रूह तेरी तो फिर मैं किसी और का कैसा,
कमी नहीं किसी चीज़ की दुनिया में मुझको,
पर जब तू ही नहीं तो ये जहाँ मेरा कैसा..!!

आपको देखने की तमन्ना मुझे भी थी,
पर हर तमन्ना की मंजिल नहीं होती..!!

लोग फूल को बचाने के लिए क्या क्या करते हैं,
कली को फूल बनाने के लिए क्या क्या करते हैं,
कोई नहीं जानता कि जब चोट लगती है उस फूल से भी नाज़ुक दिल पर,
तो उस दिल के टुकड़े को फिर सजोने के लिए क्या क्या करते हैं..!!

अपनी तबाहियों का मुझे गम तो है मगर,
तुम ने किसी के साथ मोहब्बत निभा तो दी..!!


Gam Shayari


गम भरी शायरी
Gam Shayari

मौत-ओ-हस्ती की कश्मकश में कटी तमाम उम्र,
ग़म ने जीने न दिया शौक़ ने मरने न दिया..!!

एक उम्र भर की जुदाई मेरे नसीब में करके,
वो तो चला गया बातें अजीब करके,
तर्ज ए वफा को उसकी क्या नाम दूं,
खुद तो दूर चला गया मुझे करीब करके..!!

तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे,
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे,
अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो,
तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे..!!

हम तो आपके कब से बने बैठे थे,
पर आप शायद किसी और के इंतज़ार में बैठे थे..!!

प्यार के बदले नफरत मिलेगा मुझे मालूम न था,
ख़ुशी देने के बदले गम मिलेगा मुझे मालूम न था,
मैंने जब उसे दिल दिया उस पर विश्वास करके,
तो मेरे दिल का खून होगा मुझे मालूम न था..!!

काले घटा चाँद पर भी कभी कभी छा जा जाते हैं,
दिल में ना बसाना चाहो जिसे वो भी कभी कभी अपने हो जाते हैं..!!

प्यार में दर्द न होता तो प्यार कैसे होता,
सभी अगर वफ़ा करते तो बेवफाई कैसे होता..!!

दिल में थे तुम कभी पर अब वहां से निकल गए,
मेरी चाहत को बेगाना करके चाहत के लिए निकल गए,
तुझे जितना चाहा शायद वो तेरे लिए कम था,
तुम्हे बहुत पकड़ने की कोशिश की पर तुम फिसल गए..!!

हम तो ख्वाबो की दुनिया में बस खोते गये,
होश तो था फिर भी मदहोश होते गये,
उस अजनबी चेहरे में क्या जादू था,
न जाने क्यों हम उसके होते गये..!!

खुद से छुपकर जाओगे भी तो कहाँ जाओगे,
जो ज़ख्म दिया है तुमने मुझे उसे कैसे भूल पाओगे..!!


Best Gam Shayari in Hindi


गम भरी शायरी हिंदी
Best Gam Shayari Hindi

लूट लेते है अपने ही, वरना गैरो को क्या पता,
इस दिल की दीवार कमज़ोर कहाँ है..!!

एसे ही नम हो चली हैं मेरी आँखें,
तुम तो बिल्कुल भी गुनहगार नहीं,
मगरूर नहीं हूँ बस दूर हो गई हूँ मैं,
उन लोगों से जिन्हें मेरी कदर नहीं है..!!

हर पल साथ देने का वादा करते हैं तुझसे,
क्यों अपनापन इतना ज्यादा है तुझसे,
कभी ये मत सोचना भूल जायेंगे तुझे हम,
हर पल साथ निभाने का वादा है तुझसे..!!

तुम अपना रंजो-गम अपनी परेशानी मुझे दे दो,
तुम्हें मेरी कसम यह दुख यह हैरानी मुझे दे दो,
ये माना मैं किसी काबिल नहीं इन निगाहों में,
बुरा क्या है अगर इस दिल की वीरानी मुझे दे दो..!!

तेरा यूँ मेरे सपनो में आना ये तेरा कसूर था,
और तुझ से दिल लगाना ये मेरा कसूर था,
कोई आया था पल दो पल को जिंदगी में,
और अपना समझ लेना वो मेरा कसूर था..!!

Hindi Gam Shayari 2021

गम खुद ही ख़ुशी में बदल जाएगा,
सिर्फ मुश्कुराने की आदत डालो..!!

एक दिन वो दर्द भरी तन्हाई की रात आ जाएगी,
जिस रात छोड़कर मुझको वो दुल्हन बनकर चली जाएगी..!!

ख़ुशी से जीता हूँ हर पलों को क्योंकि जब होगी वो किसी और के बाहों में,
बस उसी पल मेरी सारी दुनिया एक पल में ही बिखर जाएगी..!!

काश तुम और मैं भी एक होते,
तो हमारे दरमियां न इतने फ़ासले होते..!!

किसी के दिल में क्या है ये किसी को पता नहीं होता,
अपना कहने वाला सच में अपना है ये पता नहीं होता,
जब किसी का मासूम दिल मासूम मोहब्बत करता है,
तो उस प्यार में छिपे दर्द का पता उसे नहीं होता..!!

नाराज़ क्यों हूँ तुमसे मैं तुमने ये भी नहीं जाना,
ज़िंदा भी हूँ मैं या नहीं तुमने ये भी नहीं जाना,
विश्वास उठ गया मुझसे या चाहत कोई और बन गया है,
दूर क्यों हूँ तुमसे तुमने दूरी का फ़र्क़ भी नहीं जाना..!!


Final Words


आपको ये ब्लॉग Best Gam Bhari Shayari in Hindi 2021 कैसा लगा कमेंट करके जरुर बताएं! इसके आलावा भी अगर ब्लॉग या वेबसाइट से संबधित कोई Suggestion या Advice है। तो दे सकते है हम उसमे सुधार करने की कोशिश करेंगे!

अगर आपको Gam Bhari Shayari पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें! और हमे FacebookInstagram और Pinterest पर भी फॉलो कर सकते है..!! धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top